Live Cricket Score, Schedule, Latest News, Stats And Much More

  1. Home
  2. home

जियो, एयरटेल और वोडाफोन ने बढ़ाए प्लान, जानिए आपके ऊपर अब कितना भार एक्स्ट्रा पड़ेगा?

जियो, एयरटेल और वोडाफोन ने बढ़ाए प्लान, जानिए आपके ऊपर अब कितना भार एक्स्ट्रा पड़ेगा?
टेलिकॉम कंपनियों (Telecom Companies) के द्वारा बढ़ाए गए टैरिफ प्लान (New Tariff Plan) का ही नहीं बल्कि मानसूनी बारिश के कारण होने वाले नुकसान के कारण भी महंगाई दर बढ़ेगी.

हमारे देश में अब सिर्फ तीन ही टॉप टेलीकॉम कंपनियां हैं और इन तीनों कंपनियों (Top Telecom Companies) ने यूजर्स को झटका देते हुए टैरिफ प्लान के रेट (New Tariff Plan Rates) बढ़ा दिए हैं.

ये नए प्लान लागू भी हो गए हैं. सबसे पहले रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने अपने टैरिफ प्लान में इजाफा करके ग्राहकों को झटका दिया. इसके बाद भारती एयरटेल (Bharti Airtel) और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने भी दरें बढ़ा दी.

महंगाई पर असर

एक विदेशी ब्रोकरेज कंपनी (Foreign Brokerage Company) ने यह अनुमान जताया है कि टेलिकॉम कंपनियों (Telecom Companies) द्वारा बढ़ाए गए टैरिफ प्लान के कारण वित्त वर्ष 2024-25 में महंगाई दर 0.20 प्रतिशत तक बढ़ सकती है. डॉयचे बैंक के अधिकारियों ने महंगाई दर के बढ़ने का अनुमान जताया है.

ये भी है महंगाई दर में वृद्धि के कारण

केवल टेलिकॉम कंपनियों के द्वारा बढ़ाए गए टैरिफ प्लान का ही नहीं बल्कि मानसूनी बारिश के कारण होने वाले नुकसान के कारण भी महंगाई दर बढ़ेगी. हालांकि ईंधन और खाद्य मुख्य महंगाई दर में शामिल नहीं है. डॉयचे बैंक की तरफ से जारी रिपोर्ट में यह कहा गया है कि जुलाई महीने से ही टैरिफ प्लान में वृद्धि का असर दिखने लगेगा.

यानी चालु वित्त वर्ष में टेलिकॉम सेक्टर में महंगाई दर में 0.20 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है. जिसके बाद उन्होंने चालु वित्त वर्ष के लिए महंगाई दर के अनुमान को भी बढ़ा दिया है. यह अनुमान पहले 3.6 प्रतिशत था, जिसे बढ़ाकर अब 3.8 प्रतिशत कर दिया.

ढाई साल बाद टैरिफ में इजाफा

टेलिकॉम कंपनियों ने टैरिफ प्लान में ढाई साल बाद वृद्धि की है. इस बार 20 प्रतिशत से ज्यादा का इजाफा हुआ है. जून महीने की महंगाई दर 3.2 फीसदी रह सकती है. ये मई महीने की अपेक्षा 0.13 प्रतिशत ज्यादा हो सकती है. इसके अलावा जून महीने में खुदरा महंगाई दर 4.96 फीसदी हो सकती है. मई महीने में खुदरा महंगाई दर 4.75 फीसदी थी.