Live Cricket Score, Schedule, Latest News, Stats And Much More

  1. Home
  2. NEWS

नोट छापने की मशीन है ये शेयर, मात्र 210 दिन में बना दिया लोगों को लखपति, एक्‍सपर्ट बोले अभी और भागेगा

नोट छापने की मशीन है ये शेयर, मात्र 210 दिन में बना दिया लोगों को लखपति, एक्‍सपर्ट बोले अभी और भागेगा
जिसका हम जिक्र कर रहे हैं इस कंपनी शेयरों के 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर (52-wk high) 214.50 रुपये है. वहीं इसका 52 सप्ताह का न्यूनतम स्तर (52-wk low) 50.00 रुपये है.

बाजारों में आज भी रौनक वाला दिन था और निफ्टी तथा बैंक निफ्टी समेत सभी इंडेक्स लगातार ऊपर जा रहे थे. भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी लिमिटेड (IREDA) के शेयरों में बुधवार को शुरुआती करोबार के दौरान 7.18 फीसदी का उछाल देखने को मिला और ये शेयर 198.33 रुपये पर पहुंच गए.

हालांकि बाजार बंद होने पर इसके शेयर 5.40 फीसदी के तेजी के साथ 195.05 रुपये पर थे. कंपनी का IPO पिछले साल नवंबर 2023 में 32 रुपये पर आया था. तबसे लेकर यह स्‍टॉक 230 फीसदी से ज्‍यादा चढ़ चुका है यानी की इस स्‍टॉक ने निवेशकों के पैसे को 3 गुना से ज्‍यादा किया है. 

IREDA को FTSE All World Index में शामिल किया गया है, जिस वजह से इरेडा के शेयरों में उछाल देखी जा रही है. पिछले कुछ दिनों को अगर छोड़ दें तो कंपनी के शेयरों ने अबतक ज्यादातर दिन हरे रंग में ही कारोबार किया है, इसके शेयरों में निरंतर बढ़त देखी जा रही है. अगर IREDA के शेयरों पर बीते 6 महीने में नजर डालें तो इसमें 72.98 फीसदी का इजाफा हुआ है. 

21 दिसंबर 2023 को कंपनी के शेयरों का प्राइस 109.90 रुपये था. IREDA के 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर (52-wk high) 214.50 रुपये है. वहीं इसका 52 सप्ताह का न्यूनतम स्तर (52-wk low) 50.00 रुपये है. IREDA का मार्केट कैप 49,724 करोड़ रुपये है.

कहां तक जाएगा ये शेयर?

IREDA के शेयरों को लेकर एक्‍सपर्ट्स का अलग-अलग व्‍यू है. कुछ चार्ट एनालिस्ट्स का अनुमान है कि IREDA के शेयर 220-230 रुपये तक जा सकते हैं. पिछले एक महीने में कंपनी के शेयरों में 0.91 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

क्या करती है कंपनी?

IREDA भारत सरकार के स्वामित्व वाली कंपनी है. इसकी वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, कंपनी न्‍यू और रिन्‍यूएबल एनर्जी सोर्स के माध्यम से विद्युत या ऊर्जा उत्पादन करने और ऊर्जा दक्षता के माध्यम से ऊर्जा संरक्षण के लिए विशिष्ट परियोजनाओं और योजनाओं को फंडिंग देती है. इसके अलावा, कंपनी का लक्ष्‍य न्‍यू एनर्जी सेक्‍टर में फंड के माध्‍यम से हिस्सेदारी बढ़ाना है.